Wednesday 5 August 2009

शिल्पा शेट्टी का चुंबन ले रहे हैं बाबाजी




नाग पंचमी के दिन शिल्‍पा शेट्टी एक मंदिर में पूजा करने गईं। पुजारी ने उन्‍हें किस तरह आशीर्वाद दिया, इसे वनइंडिया इन वेबसाइट ने उजागर किया है। इस पोस्‍ट के शीर्षक को क्लिक कर आप सीधे भी ये तस्‍वीरें देख सकते हैं।


जब रिचर्ड गेर ने शिल्‍पा का चुंबन लिया था तो जबर्दस्‍त हंगामा हुआ था। अब इसे आशीर्वाद बताया जा रहा है। फिलहाल तो आप तस्वीरें देखिये और ख़ुद ही सोचिये।


23 comments:

  1. प्रेमचंद जी
    अपने बड़े गजब का रोचक समाचार दिया है . बाबाजी इस उम्र में भी बड़े गुरु घंटाल दिख रहे है अब इसे आशीर्वाद बताया जा रहा है। . फोटो में देखो चिपक कर चुम्बन ले रहे है . शिल्पा भी जानती है बेचारा इस उम्र में क्या कर लेगा . हा हा आभार.

    ReplyDelete
  2. अब इसे आशीर्वाद बताया जा रहा है हा हा...

    ReplyDelete
  3. सुंदरी के स्पर्श का जादू तो अब देखिएगा, बाबा जी की उम्र न २०-२२ साल बढ़ जाये तो कहिये.

    प्रमोद ताम्बट
    भोपाल
    www.vyangya.blog.co.in

    ReplyDelete
  4. बड़ा गहरा आशीर्वाद दे डाला. :)

    ReplyDelete
  5. धन्य हैं यह बाबा जी और धन्य है उनका आशीर्वाद।

    ReplyDelete
  6. जब विदेशी रिचर्ड गेर ऐसा कर सकते हैं तो देशवासी होने के नाते इनका हक बनता है भाई :)

    ReplyDelete
  7. 'कौन कहता है बुड्ढे इश्क नहीं करते ,इश्क करते है मगर उन पर कोई शक नहीं करते'
    रामचंद्र कह गए सिया से ऐसा कलयुग आयेगा ......

    ReplyDelete
  8. काश हम baabaa n huye !

    ReplyDelete
  9. भाई बाबा कि तपस्या का प्रसाद प्रभु ने भेजा था... इंकार कैसे करे..

    ReplyDelete
  10. कहां से ढूंढ लाते है यह सब

    पर काफी दिलचस्‍प है

    हरियश राय

    अहमदाबाद

    ReplyDelete
  11. लगता है अब बाबा ही बनना पडेगा। हा हा हा हा हा हा हा।

    ReplyDelete
  12. सारे धर्मों और बाबाओं के यहाँ यही सब कुछ चल रहा है पर वोटों के सौदागर इसी धर्म के लिए मूर्खों को बलिदान के लिए उकसाते रहते हैं

    ReplyDelete
  13. बाबा को अब स्वर्ग की भूख नहीं रही वे यहीं पर अप्सराएं और सोम रस तलाश कर तृप्त हो रहे हैं

    ReplyDelete
  14. बेचारे के मन की भावनाओं को भी तो कोई समझने का प्रयास करे!! क्या पिता-पुत्री का इस प्रकार से चुम्बन नहीं ले सकता! हो सकता है कि इनकी भावना भी कुछ इस प्रकार की ही रही हो!!

    ReplyDelete
  15. पहले गैर ...फिर अपने...वाह शिल्पा पर तो आशीर्वादों के झडी सी लग गयी है...जाओ हमारा हवाई आर्शीवाद भी तुम्हारे साथ है बालिके ...

    ReplyDelete
  16. इसे हैडिंग दें बाबाजी का बदला :)

    ReplyDelete
  17. हुस्‍न के दरिया में डूबा एक जोगी
    अतृप्‍त वासना ने बनाया भोगी
    ... आर.के. जाट

    ReplyDelete
  18. Indian Recherd Ger Ban Rahe Hain Baba

    ReplyDelete
  19. TRP ki race me aap bhi prem kavi

    ReplyDelete
  20. बाबा तेरी तकदीर
    बढ़ी हमारी पीर
    जल के हुआ खाक
    जीवन जैसे आक
    करम है मेरो खोटो
    चूम सका न फोटो
    साक्षात् उसको चूमा
    सबका माथा घूमा
    अब तो धनधन वाद
    ये था आर्शीवाद

    जय हो महाराज !जय हो!!

    ReplyDelete
  21. jitana paap utani pooja .. bhagwan ke paas hisaab baraa ber ... baat khatm ..

    ReplyDelete
  22. सच भी ना होता अच्छा, झूठ भी नहीं है अच्छा,
    नेतागिरी ना दादागिरी, सबसे ऊँची है "बाबागिरी" !!

    ना इज्जत की चिंता, ना फ़िक्र कोई अपमान की,
    मान-अपमान से परे, सबसे-जरूरी है सयानागिरी !!

    हरम का माल खाओ, लड्डू-पेड़ा और रबड़ी भखो,
    भक्त खायें बाबा की जूठन, बाबा ठूँसे 'हलवा-पूरी' !!

    बाबा के हैं भक्त अगणित, साथ में चेला और चेली,
    बाबा उड़ावें गुलछर्रे नित, भक्तों सँग "रामकटोरी" !!

    बाबाओं की सुन करतूत, पब्लिक है हक्का-बक्का,
    नेताजी के बँगले जाके, बाबाजी ने खीस निपोरी !!

    ReplyDelete
  23. सच भी ना होता अच्छा, झूठ भी नहीं है अच्छा,
    नेतागिरी ना दादागिरी, सबसे ऊँची है "बाबागिरी" !!

    ना इज्जत की चिंता, ना फ़िक्र कोई अपमान की,
    मान-अपमान से परे, सबसे-जरूरी है सयानागिरी !!

    हराम का माल खाओ, लड्डू-पेड़ा और रबड़ी भखो,
    भक्त खायें बाबा की जूठन, बाबा ठूँसे 'हलवा-पूरी' !!

    बाबा के हैं भक्त अगणित, साथ में चेला और चेली,
    बाबा उड़ावें गुलछर्रे नित, भक्तों सँग "रामकटोरी" !!

    बाबाओं की सुन करतूत, हक्का-बक्का है पब्लिक,
    नेताजी के बँगले जाके, बाबाजी ने खीस निपोरी !!

    शिल्पा को चूमा-चाटा, न जाने कितनों को लपेटा,
    बाबा ये हो नहीं सकता, ये तो है पक्का 'टपोरी' !!

    ReplyDelete

Indic Transliteration